Thursday, August 7, 2008

बुत

बुत 
देखो उस बुत को
कैसा चमक रहा है
कितनी जगह घेरे है
कितना पैसा खर्च किऐ हैं
अपनी शान के नाम पर
बिल्कुल तुम्हारी तरह

कुछ समय बाद देखना उस बुत को
कोई थूकेगा
पक्षी बीट करेगे
बच्चे पत्थर से हिट करेंगे
अपना निशाना ठीक करेंगे

इसलिए
नेताओ
अब भी समय हैं
संभल जाओ
कुछ ऐसा कर जाओ
आने वाली पीढ़ियाँ नाज करें
शान से तुम्हारी बात करें

14 comments:

अनुराग said...

नही समझेंगे भाई.....देखना ४-५ बुतों के आर्डर जा चुके होंगे आज सुबह ही...

Nitish Raj said...

सही कह रहे हैं आप....बच्चे पत्थर से हिट
करेंगे निशाना ठीक करेंगे...बढ़िया लेकिन क्या करें ये नेता पत्थर और किसी भी तरह की बीट के सिवा कुछ पाने के हकदार भी नहीं हैं। बुत लगने पर दूसरा नेता बड़ा खुश होता है। मन ही मन सोचता है कि अब आएगा मजा जब पक्षी करेंगे पॉट्टी इन पर।

बाल किशन said...

सही चेतावनी दी है आपने.
बहुत ही करार कटाक्ष.

Rajesh Roshan said...

ये नेता ..... जो नही करना चाहिए वही करते हैं यह नेता

PREETI BARTHWAL said...

ये नेता हैं.... सुधर ही नहीं सकते। इनके लिए पक्षी की बीट और बच्चों का पत्थर से हिट करना कोई मायने नहीं रखता।
आपकी रचना बहुत अच्छी है।

शोभा said...

इसलिए
नेताओ
अब भी समय हैं
संभल जाओ
कुछ ऐसा कर जाओ
आने वाली पीढ़ियाँ नाज करें
शान से तुम्हारी बात करें
बहुत अच्छा लिखा है। बधाई स्वीकारें।

Udan Tashtari said...

सटीक..वाह!वाह! आनन्द आ गया.

रंजना [रंजू भाटिया] said...

इसलिए
नेताओ
अब भी समय हैं
संभल जाओ
कुछ ऐसा कर जाओ
आने वाली पीढ़ियाँ नाज करें
शान से तुम्हारी बात करें

क्या ऐसा सम्भव है ? मुझे तो नही लगता .रचना बहुत अच्छी लिखी है आपनी

तेताला said...

और किसी दिन कोई
भीड़, मन से बनकर भेड़
ताकत लेकर गज की
गिरा देगी बुत को
सद्दाम की तरह
तोड़ देगी, फोड़ देगी
अवैध कब्‍जा जमीं पर
खाली करा लेगी।

नेता नहीं संभलेंगे
वे लीडर भी हैं
निडर भी हैं
उन्‍हें भय नहीं लगता
चाहे बच्‍चे लातों से
मारें फुटबाल को
और लगे जाकर वो
बुत को या सच नेता को।

अविनाश वाचस्‍पति

राजीव तनेजा said...

मुद्दतों पहले बहरे हो चुके कानों तक अपनी आवाज़ पहुँचाने की अच्छी कोशिश .....तालियाँ

swati said...

bahut hi sateek lagi aapki kavita

श्रद्धा जैन said...

NEta ji samjh jaaye to bhala ho
aapne bhaut achhe se likha hai
gudh arth liye kavita par bhaut bahut badhayi

नीरज गोस्वामी said...

सुशील जी
बहुत सही बात कही है आपने...क्या ही अच्छा हो जो इसे हमारे सब नेता पढ़ें और गुने
नीरज

Advocate Rashmi saurana said...

bhut satik. ati uttam.

LinkWithin

Related Posts with Thumbnails